Kapalbhati Ke Fayde, Benefits Of Kapalbhati In Hindi

Kapalbhati Ke Fayde, Benefits Of Kapalbhati In Hindi
कपालभाती  एक महत्वपूर्ण प्राणायाम है जो हमारे स्वास्थ के लिए फायदेमंद है।  आजकल की भाग दौड़ भरी जिंदगी में अपने शारीरिक स्वास्थ्य पर ध्यान देना मुश्किल हो गया है जिसके वजह से अनेक प्रकार की बीमारिया होने लगी है। इन बीमारियों से दूर रहने के लिए कपालभाति प्राणायाम प्रतिदिन करना चाहिए, इस प्राणायाम को प्रतिदिन करने से त्वचा और चेहरे पर चमक आती है। कपालभाति प्राणायाम करने से शरीर डिटॉक्सीफाई हो जाती है इसको करने से मन प्रसन्नचित  रहता है। 
आज कल के समय में लोग तरह-तरह के उपाय स्वास्थ के लिए करते रहते है, इन सभी उपायों में कपालभाती एक उत्तम उपाय है जो सम्पूर्ण शरीर के लिए लाभ प्रद है।   

कपाल भाती संस्कृत शब्द से मिलकर बना है इसमें कपाल का अभिप्राय माथा से और भाती का मतलब उजाला या प्रकाश होता है इसलिए कपालभाती प्राणायाम कहते है। इस प्राणायाम को नियमित करने से गंदी हवा बाहर निकल जाती है और ताजी हवा शरीर के अंदर जाती है जिससे चेहरे और माथे पर चमक आती है। इस प्राणायाम को नियमित रूप से करना चाहिए। 

इस प्राणायाम को कैसे करे -


 शरीर को नीरोग रखने के लिए एक उत्तम प्राणायाम है, जो कपालभाती प्राणायाम करता है वह स्वस्थ और हमेशा खुश रहता है यह प्राणायाम हठ योग के अंतर्गत आता है। 
हठ योग में ही कपालभाती प्राणायाम भी आता है। 

तो आइये जानते है कि इस प्राणायाम को कैसे करते है और इसके करने का तरीका क्या है। 

  • कपालभाती कोसुबह में किया जाय उत्तम होता है 
  • आप चटाई बिछाकर ताजी हवा में बैठे,
  • ऐसे स्थान का चाहयान करे जहा शुद्ध और ताजी  हवा हो और स्थान खुला हो। 
  • बिल्कुल सीधा वज्रासन की मुद्रा में बैठ जाय आपके रीढ़ की हड्डी एक दम सीधी हो। 
  • इसके बाद दोनों हाथो को घुटने पर रख दे। 
  • मन कोबिल्कुल शांत रखे। 
  • अपने अंदर की हवा को बाहर निकले और अपने पेट को अंदर की तरह करे 
  • फिर भीतर की हवा को बाहर निकले यह क्रिया तेज गति से करनी है 
  • इसको अपने स्वेच्छा अनुसार कर सकते है। 
  • और मन को हमेशा खुश रखना है। 
Kapalbhati Ke Fayde, Benefits Of Kapalbhati In Hindi

कपालभाती करते समय ध्यान देने योग्य बाते -


  • कपालभाती जब भी करे खाली पेट ही करे। 
  • ताज़ी हवा में करना लाभ प्रद होता है।
  • कपालभाती करते समय बीच-बीच में रूक भी सकते है।
  • जबरजस्ती करने का प्रयास न करे जितना इच्छा हो उतनी ही करे।
  • साँस को अच्छी तरह अंदर बाहर करे।
  • इसको करते समय मन को प्रसन्नचित रखे।
  • करते समय आपका ध्यान स्वांस  वायु की तरफ होना चाहिए।
  • प्राणायाम करते समय पेट अंदर और बाहर तेज गति से होना चाहिए।
  • इस क्रिया को तभी तक करे जब तक आपको सही लगे अन्यथा न करे।
  • इसको एक दिन में एक बार ही करे कोशिश करे कि सुबह में हो तो अच्छा होगा।
  • अगर आपको कोई दिक्कत महसूस हो तो योगा एक्सपर्ट से सलाह ले सकते है। 

कपालभाती प्राणायाम से होने वाले लाभ -

कपालभाती से अनेको प्रकार के लाभ होते है, जो शारीरिक और मानशिक दोनों दृष्टि से लाभ दायक है। 
तो आइये जानते है इससे होने वाले लाभ के बारे में।



  1. यह मन को प्रसन्नचित्त रखता है।  
  2. यह डिप्रेशन को दूर करने में मदत करता है। 
  3. अगर रात को अनिद्रा का प्रॉब्लम है तो इस प्राणायाम को करना चाहिए, लाभ मिलेगा। 
  4. कपालभाती शरीर को रोगो से मुक्त करता है।  
  5. इसको नियमित रूप से करने से आंखो की रोशनी अच्छी होती है। 
  6. यह चेहरे और त्चचा को चमकीला बनता है। 
  7. यह फेफड़े  को शुद्ध करने में सहायक है ताकि फेफड़े संबंधित रोगो से बचा जा सके। 
  8. कपालभाति यह मन को शान्त रखता है। 
  9. यह मष्तिष्क को ऊर्जावन भी बनता है। 
  10. यह हमारे प्राण वायु को भी मजबूत बनता है। 
  11. यह कफ की समस्या को खत्म करता है।          
  12. कपालभाती प्राणायाम को करने से खांसी की समस्या में लाभ होता है। 
  13. यह हमारे लिवर संबंधित रोगो को भी दूर करने में मदत करता है।  
  14. पेट की चर्बी को कम करके पतला बनता है जिससे कमर पेट की एक्स्ट्रा चर्बी हट जाती है। 
  15. यह गैस, एसिडिटी, कब्ज को भो दूर करने में मदत करता है।   
  16. अगर आप भोजन न पचने की समस्या से परेशान  है तो कपालभाति प्राणायाम करे निश्चित रूप से आपको लाभ मिलेगा और भूख लगाने लगेगी। 
  17. यह डायबिटीज, किडनी, और आंतो संबंधित समस्या में भी लाभ दायक है।
  18. बहुत सारे ऐसे शारीरिक कष्ट है जिसको कपालभाती प्राणायाम करके दूर किया जा सकता है। 


 किसको कपालभाती प्राणायाम नहीं करना चाहिए -


जिसको सांस फूलने की समस्या हो यह प्राणायाम  करना चाहिए 
उच्च रक्त चाप की सिकायत हो उनलोगो को यह कपालभाती प्राणायाम नहीं करना चाहिए। 
यह प्राणायाम करने से जिन लोगोको दिक्कत हो रही हो उन लोगो को भी यह कपालभाती नहीं करना चाहिए।     
   
नोट - Kapalbhati Ke Fayde, Benefits Of Kapalbhati In Hindi यह जानकारी आपको अच्छी लगे तो शेयर करे।