एलोवेरा के फायदे और नुकसान
aloevera


एलोवेरा एक बहुत ही गुणकारी पौधा है जोकि औषधीय गुणों से युक्त है। इसको घृतकुमारी के नाम से भी जाना जाता है। आज कल के समय में तमाम ऐसे ब्यूटी प्रोडक्ट और हेल्थ प्रोडक्ट आसानी से मिल जाते है। एलोवेरा का इस्तेमाल इसके अलावा बीमारियों को दूर करने के लिए भी किया जाता है। प्राचीन काल से ही एलोवेरा का काफी महत्व रहा है। इसमें बहुत सारे ऐसे तत्व पाए जाते है जोकि हमारे स्वास्थ्य की दृष्टि से काफी लाभ दायक है। इसमें पाए जाने वाले तत्व हमारी त्वचा ,बालो के लिए फायदे मंद है। और इसके आलावा दूसरे फायदे भी है।  इसलिए आइये  हम जानते है एलोवेरा से होने वाले फायदे के बारे में

एलोवेरा में पाये जाने  तत्व -

एलोवेरा में निम्न प्रकार के तत्व पाए जाते है -

इसमें विटामिन्स,मिनिरल्स,सेलीसिलिक एसिडस,एमिनो एसिड्स पाए जाते है।इसके साथ विटामिन ए ,विटामिन बी 12, c और विटामिन ई ,कैल्शियम , मैग्नीशियम और बहुत सारे गुणकारी तत्व पाए जाते है। 


एलोवेरा के लाभ -
एलोवेरा में  निम्न प्रकार के लाभ पाये जाते है -

एंटीऑक्सीडेंट  -

एलोवेरा के फायदे और नुकसान
aloevera

एलोवेरा  हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद है। जो हमारे शारीर को रोगो से मुक्त रखता है इसमें ऐसे तत्व पाए जाते है।जोकि प्रतिरोधक क्षमता को बड़ाने में मदत करते है।जिसके वजह से रोगों से  लड़ने मे मदत मिलती है। इसलिए हमें प्रतिदिन एलोवेरा जूस का सेवन  करना चाहिए ताकि हम स्वास्थ्य रह सके।

पाचन के लिए फायदेमंद -

एलोवेरा हमारे पाचन क्रिया के लिए बहूत ही फायदेमंद है इसमें मौजूद तत्व पेट सम्बंधित सभी समस्याओ को दूर करता है। इसमें लैक्सटिव प्राकृति पाया जाता है। यह हमारे पेट को साफ रखने में मदत करता है। जिसके वजह से  पाचन क्रिया चुस्त और दुरुस्त रहती है और खाया पिया आसानी से पच जाता है। यदि पेट में कब्ज की समस्या हो या अल्सर की समस्या हो तो एलोवेरा का जूस प्रतिदिन पिने से लाभ मिलता है। कई अध्यनो में  यह पता चला है। कि एलोवेरा का उपयोग हमारे पाचन क्रिया और सम्बंधित रोगो के लिए काफी लाभ दायक है।

ह्रदय रोग में लाभ -

एलोवेरा का नियमित उपयोग  करने से ह्रदय रोग की समस्या कम करने मे भी मदत मिलती है। आज  कल के दिन चर्या और गलत खान पान की वजह से दिल की समस्या आम हो गयी है। कई अध्यनो में पाया  गया है। कि एलोवेरा का इस्तेमाल करने से कुछ हद तक दिल की बीमारी में आराम मिल सकता है। यह रक्त वाहिनियों में वसा के जमाव को रोकता है। और रक्त प्रवाह को सामान्य बनाने में मदत करता है।

डायबटीज में प्रभाव -
डायबटीज में प्रभाव


इसका सेवन करने से डायबटीज में भी मदत मिलती है। यह डायबटीज को कंट्रोल करने में मदत करता है। अगर एलोवेरा का जूस और करेले का जूस एक साथ मिलाकर सेवन किया जाय तो यह डायबटीज के लिये बहुत ही लाभ दायक साबित हो सकता है। इसका सेवन सुबह के समय करने से लाभ मिलेगा। प्रतिदिन सेवन करने से मधुमेह को कंट्रोल रखा जा सकता है। या डाक्टर के सलाह अनुसार इसक उपयोग किया जा सकता है।


कोलेस्ट्रॉल में -

एलोवेरा का उपयोग करके कोलेस्ट्रॉल पर नियंत्रण पाया जा सकता है। आज कल की भाग दौङ भरी जिंदगी में शरीर का देख भाल रखना बहुत ही मुश्किल हो गया है। जिसके वजह से कोलेस्ट्रॉल की समस्या आम हो गयी है। एलोवेरा के जूस का सेवन करके इस समस्या को कुछ हद तह कम किया जा सकता है।

दर्द और सूजन -
दर्द और सूजन
sswelling

एलोवेरा का नियमित उपयोग करने से दर्द और सूजन में राहत मिल सकती है। इसमें मौजूद तत्व सूजन को कम करने मदत करते है ,और साथ ही दर्द में छुटकारा दिलाने का कार्य करते है। यह जोड़ो के दर्द के लिए भी लाभदायक है। इसके नियमित सेवन से हमें लाभ मिल सकता है। कई अध्यनो में भी पाया गया है। कि एलोवेरा जूस का नियमित इस्तेमाल से दर्द और सूजन में राहत  मिल सकती है।

मोटापा कंट्रोल करने -
मोटापा कंट्रोल करने -
weight loss

मोटापा कम करने में काफी मदत करता है यदि नियमित रूप से इसका उपयोग किया जाय तो वजन को कंट्रोल किया जा सकता  है।


कैंसर में -

कैंसर में
cancer


एलोवेरा जूस का उपयोग करने से कैंसर जैसी बीमारियों से दूर रहा जा सकता है।

मुँह के लिए -

मुँह के सफाई के लिए इसका  इस्तेमाल किया जा सकता है। यह माउथ फ्रेशनर का कार्य करता है इसमें मौजूद तत्व मुँह में पायरिया और सूजन की समस्या को कम कर देते है। इसके साथ अगर मुँह के अंदर छाला हो तो इसका उपयोग करना चाहिए। जिससे राहत मिल सके। 

चुस्त रखने में -


यह चुस्त और दुरुस्त बनाये रखने में मदत करता है। स्वास्थ्य की दृष्टि से इसका इस्तेमाल नियंमित रुप् से करना चाहिए। एलोवेरा  जूस हमें  स्फूर्ति प्रदान करता है। यह हमारे त्वचा ,बालों ,की भी देख भाल करता है। साथ ही साथ इसमे एंटीफंगल और एंटीबैक्टीरियल गुण भी  मौजूद होता है।जो घाव लग  जाने पर  फायदा करता है। और उसको आसानी से भर देता है। यह शरीर को निरोगी बनाने मदत करता है। अगर प्रतिदीन एलोवेरा  जूस का उपयोग किया जाय तो अनेको लाभ ले सकते है।
इसका बेहतर लाभ लेने की लिए करेले का जूस और आंवले का जूस एक साथ मिलाकर सेवन कर सकते है। जिससे और अच्छा लाभ मिल सके।

कब्ज से छूटकारा -
कब्ज से छूटकारा
kabj

एलोवेरा  का उपयोग करने से कब्ज से  छुटकारा मिल सकता है। जयादा तला खाने से ऐसी समस्याएं ज्यादा पैदा होती है जो कब्ज का मुख्य कारण बनती है। जिसके वजह से खाया हुआ सही से नहीं पचता और पेट में गैस की भी समस्या पैदा होने लगती है। अगर सुबह में एलोवेरा का जूस इस्तेमाल किया जाय तो कब्ज की समस्या से छुटकारा मिल सकता है। आप डाक्टर से भी सलाह ले सकते है।

सूर्य की किरणों -

एलोवेरा से बने हुए मॉइस्चराइजर का उपयोग कर सकते है जो हमारे त्वचा के लिए काफी फायदे मंद है। जब भी हम धुप में निकलते है तो हमारी त्वचा बेजान हो जाती है। उसका मुख्य कारण हमारे त्वचा  की नमी धुप के वजह से सुख जाती है। इसलिए एलोवेरा का उपयोग त्वचा के लिए फ़ायदेमंद हो सकता है। यह हमें धुप से निकलने वाली किरणों से बचाने मदत करती है। इससे बने फेस क्रीम बाजार में आसानी से मिल जाती  है।

मुहाँसो के लिए फायदेमंद -

मुहाँसो के लिए फायदेमंद
muhansa

एलोवेरा का इस्तेमाल मुहांसो के लिए के लिए भी किया जाता है। इसमें ऐंटिफंगल  और एन्टीबैक्टेरिअल गुण पाया जाता है जो मुहांसे के लिए काफी फायदेमंद है। दिन में दो बार लगाना चाहिए। 

झुर्रियो के लिए फायदेमंद -

इसका इस्तेमाल हमारी त्वचा के  लिये भी फायदेमंद है। इसमें मौजूद तत्व त्वचा को निखारते है और त्वचा को चमकदार बनाने में  सहायता प्रदान करते है। इसको  फेस पर लगाने से झुर्रिया समाप्त हो जाती है। दो चमच्च एलोवेरा जेल  में एक चमच्च निम्बू का रस मिलाकर लगाए और थोड़ी देर बाद धोले ऐसा कुछ दिन तक करने से झुर्रिया समाप्त  हो जाएगी।

बालों की लिये -
एलोवेरा के फायदे और नुकसान
alovera gel

एलोवेरा का नियमित उपयोग करके अपने बालो को खूबसूरत बना सकते है। बाहर निकलने से बाल बेजान और रूखे हो जाते है जिसके वजह से टूट कर गिरने लगते है और असमय सफ़ेद हो जाते है। जिससे छुटकारा पाने के   लिए एलोवेरा जेल का इस्तेमाल कर सकते है। हफ्ते मे एक बार लगाने से बाल लम्बे घने और अच्छे दिखने लगते है।और नये बाल भी आने लगते है।एलोवेरा जेल का ईस्तेमाल करने से कुछ महिनो में फर्क दिखने लगेगा।

डैंड्रफ को ख़त्म करे -

धुल की वजह से बालो मे  रुखा पन खुजली की समस्या बढ़ जाती है जिसके वजह से डैंड्रफ का होना स्वाभाविक हो गया है। यह डैंड्रफ की समस्या को जड़ से समाप्त करता है एवं बालो को खूबसूरत और घना,लम्बा  बनाता है। इसका उपयोग हफ्ते में एक बार कर सकते है। कुछ महीनो बाद आपको इसका फायदा दिखने लगेगा।

यह प्राकृतिक कंडीशनर का भी कार्य करता है। इसका इस्तेमाल सुरक्षित और फायदेमंद है। यह बालो को शाइनिंग प्रदान करता है।

एलोवेरा से होने वाले नुकसान -

एलोवेरा का ज्यादा सेवन करने से दस्त कि  सिकायत हो सकती है इसलिए इसका सेवन चिकित्सक निर्देशा अनुसार करना चाहिए।

गर्भवती महिलाओ को इसका सेवन नहीं करना चाहिए या जो महिलाये बच्चे को दूध पिलाती है उनको भी इसका सेवन नहीं करना चाहिए।

आवश्यकता से अधिक  इसका सेवन नहीं करना चाहिए अन्यथा गलत प्रभाव हो सकते है।

जिसको लेने पर एलर्जी हो उनको भी नहीं लेना चाहिए।